PAN Card क्या है? 

मेरे सभी readers के पास PAN card जरूर होगा पर क्या इससे जुड़ी सम्पूर्ण जानकारी आपको है? वे लोग जिनके पास अभी तक PAN card नहीं है उनके लिए यह आर्टिकल और भी जरूरी हो जाता है क्यूकी इस ब्लॉग के माध्यम से उन्हें  PAN Card ke lie kaise apply kare? सवालों के जवाब भी मिल जाएंगे। जैसा कि आप सभी को मालूम है आज का युग digital युग है और हमारे सभी काम चाहे वो खरीदारी करनी हो, कुछ बेचना हो, बैंक में खाता खुलवाना हो, कोई भी एग्जाम देना हो, इन सभी जगहों पर आपको एक ID की जरूरत पड़ती है जिसके लिए PAN card बहुत जरूरी होता है। Demonetization के बाद से तो भारत सरकार ने हमारे Aadhaar Card से PAN card को लिंक करना भी अनिवार्य कर दिया है।
तो बिना देरी किए आइए PAN card क्या है?  के बारे में जानते हैं और यह क्यों जरूरी है।

PAN Card क्या है?

PAN Card को भारतीय Income Tax आयकर विभाग  , Indian Income tax Act, 1961 के तहत लोगों के लिए 1972 में जारी किया गया। यह एक प्रकार लैमिनेटेड कार्ड होता है जो दिखने में बिल्कुल आपके बैंक ATM Card की तरह होता है जिसपे आपका पूरा नाम ,आपके पिता का नाम और जन्मतिथि के साथ संख्याओं और अक्षरों का 10 Alphanumeric Code लिखा होता है, जैसे ABCDE0023X 

इस कार्ड को जारी करने की पूरी निगरानी CBDT Central Board of Direct Taxes करता है।
PAN कार्ड एक प्रकार से हमारी Identity proof में भी काम आता है , लेकिन इसका मुख्य उद्देस्य किसी भी प्रकार की फाइनेंसियल ट्रांसक्शन को ट्रैक करना होता है जिससे आयकर विभाग Income Tax की निगरानी रख सके। PAN Card ही एक ऐसा कार्ड है जिसकी जानकारी आपके देश में कहीं भी शिफ्ट होने के बावजूद नहीं बदलती।

PAN Number क्या होता है?

जैसा की मैंने आपको बताया PAN card पर 10 Alphanumeric कोड लिखे होते हैं – ABCDE0023X
इन्ही 10 कैरेक्टर या कोड को हम PAN number कहते है जिसे हिंदी में स्थाई खाता संख्या कहते हैं।

PAN के Alphanumeric code  का क्या मतलब होता है ? 

PAN card नंबर में शुरुआत के 5 कोड/character , अक्षर Alphabet के द्वारा लिखे होते हैं तथा अगले 4 code संख्या Numeric में लिखे होते हैं। 

हर एक नंबर और अक्षर अपने में एक खास प्रकार की जानकारी के लिए महत्वपूर्ण होते हैं। आइए जानते हैं फिर इन अल्फ़ान्यूमेरिक कोड का मतलब –

  1. पहले 3 alphabet A se Z के बीच के कोई भी कॉम्बिनेशन हो सकते हैं – ACZ   
  2. चौथा अक्षर सबसे ज्यादा इम्पोर्टेंस रखता है जिससे कार्ड धारक की मूल पहचान छुपी होती है, जो निम्नलिखित है-   
    • यदि “P” लिखा है – Person – XXXPX0000X
    • यदि “C” लिखा है – Company – XXXCX0000X
    • यदि “F” लिखा है – Firm  – XXXFX0000X
    • यदि “G” लिखा है – Government – XXXGX0000X
    • यदि “T” लिखा है – Trust – XXXTX0000X
    • यदि “B” लिखा है – BOI (Body of individual) – XXXBX0000X
    • यदि “H” लिखा है – Hindu Undivided Family – XXXHX0000X
    • यदि “J” लिखा है – Artificial Juridical Person – XXXJX0000X
    • यदि “L” लिखा है – Local Authority – XXXLX0000X
  3. पांचवा अक्षर कार्ड धारक के नाम का Surname होता है, जैसे – AZX Mishra, तो पांचवा कोड “M” होगा। 
  4. और कार्ड यदि किसी Company, Trust, Government या Organization का है तो उसके नाम का  पहला अक्षर पांचवे कोड के नाम पर होगा, जैसे – TATA  है तो “T” होगा। 
  5. 6 से 9वे कोड के जो 4 न्यूमेरिकल डिजिट्स होते हैं वो 0001 से लेकर 9999 के बीच में से कोई भी हो सकते हैं, जैसे – *****0023
  6. PAN Card का दसवाँ कोड एक Alphabet होता है जिसे पीछे के 9 Character के द्वारा एक फार्मूला apply करके निकाला जाता है।

PAN कार्ड क्यों जरुरी है?

  • जैसा की आपके PAN card में आपकी फोटो, जन्मतिथि , सिगनेचर तीनो होता है, इसे आप एक ID कार्ड की तरह भी उपयोग कर सकते हैं।
  • PAN कार्ड का मुख्य उपयोग Income Tax filing, Finanical Transaction, महंगी खरीद – फरोख्त के लिए किया जाता है।
  • बैंकों में खाता खोलने के लिए भी PAN card की जरुरत होती है। 
  • किसी भी प्रकार के लोन जैसे होम लोन ,पर्सनल लोन, कार लोन एवं क्रेडिट कार्ड , शोप्पिंग कार्ड आदि डिजिटल सुविधाओं को लेने के लिए भी इस कार्ड की जरूरत पड़ती है।  
  • PAN Card की ही मदद से हम ITR भर सकते हैं।
  • नए टेलीफोन कनेक्शन या इंटरनेट कनेक्शन लेने में भी PAN कार्ड जरुरी हो जाता है।
  • किसी बैंक खाते में 50,000 से ज्यादा की लेन-देन में इस कार्ड की जरुरत पड़ती है। 
  • Property खरीदने या बेचने में भी हमें PAN कार्ड की जरुरत पड़ती है . 
  • Income Tax से जुड़ी हर प्रकार की गड़बड़ियों को दूर करने के लिए PAN कार्ड की जरुरत पड़ती है। 
  • डीमैट अकाउंट खोलने के लिए भी PAN कार्ड की जरुरत पड़ती है।
  • 25,000 रुपए से अधिक होटल को भुगतान  में पैन कार्ड जरुरी होता है।

क्या आप भी शेयर मार्केट से पैसे कामना चाहते हैं? शेयर मार्केट से जुडी पूरी जानकारी आपके लिए

PAN Card कैसे बनाये ?

आज के समय में सरकार Digitization और टेक्नोलॉजी बढ़ावा दे रही है और इसी के कारण आज के समय में हम घर बैठे कहीं से भी  PAN कार्ड के लिए अप्लाई  कर सकते हैं। आप PAN कार्ड के फॉर्म का आवेदन ऑनलाइन कर सकते हैं लेकिन इसके फॉर्म को Income Tax department को पोस्ट करना होता है।

आप ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरीके से अप्लाई कर के अपना कार्ड बनवा सकते हैं।

Online : आप निचे दिए लिंक पर क्लिक कीजिए जो आपको Income Tax की वेबसाइट पर ले जाएगा,चित्र देखें 

https://www.incometaxindiaefiling.gov.in/e-PAN/index.html?lang=eng 

PAN Card ऑनलाइन apply करें

PAN Card को अप्लाई करने के लिए Netbanking/Debit Card/Credit Card की जरुरत पड़ती है जिससे आप कार्ड आवेदन में लगने वाले शुल्क का भुगतान कर सकने में आसानी होती है। PAN कार्ड Online आवेदन शुल्क  106/-(93.00 ₹ + 14% सेवा कर) है जो ऑफलाइन में कई जगह ₹150 भी हो सकता है। 

आप PAN Card का आवेदन भारत के बहार से करके अपने पास मंगवा  सकते हैं जिसका शुल्क ₹985/- (आवेदन शुल्क 93.00 + भेजने  का  खर्च ₹771 + 14% सेवा कर) है।

PAN Card  आवेदन के लिए जरूरी डॉक्यूमेंट 

कार्ड अप्लाई करने के लिए आपको वेबसाइट पर कई डॉक्यूमेंट अपलोड करने पड़ेंगे। आपको अपना 
पहचान पत्र
जन्मतिथि प्रमाण पत्र
एड्रेस प्रूफ
फोटोग्राफ स्कैन कॉपी की जरूरत पड़ेगी जिसे निर्देशानुसार अपलोड करना होगा। 

नीचे दिए गए documents में से आपको एक डॉक्यूमेंट की स्कैन कॉपी की जरूरत पड़ेगी।

पहचान पत्र के लिए – 
निचे दिए किसी एक दस्तावेज का उपयोग पहचान पत्र के रूप में कर सकते हैं

    • आधार कार्ड
    • पासपोर्ट
    • वोटर I
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • फोटो वाला राशन कार्ड
    • आर्म्स लाइसेंस
    • पेंशन कार्ड

जन्मतिथि प्रमाण पत्र
इनमें से किसी एक डॉक्यूमेंट को जन्मतिथि प्रमाण पत्र के तौर पर पेश किया जा सकता है:

    • 10वीं क्लास का पासिंग सर्टिफिकेट
    • पासपोर्ट
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • नगर निगम द्वारा जारी किया गया जन्म प्रमाण पत्र 
    • शादी प्रमाणपत्र
    • डोमिसाइल सर्टिफिकेट 

एड्रेस प्रूफ 
इनमें से किसी एक डॉक्यूमेंट को अपने फॉर्म के साथ अटेस्ट कर सकते हैं :

    • आधार कार्ड
    • वोटर ID 
    • ड्राइविंग लाइसेंस
    • पासपोर्ट
    • प्रॉपर्टी रजिस्ट्रेशन प्रूफ 
    • पोस्ट ऑफिस पासबुक जिसमें आवेदक का पता दिया हो
    • सरकार द्वारा जारी किया गया डोमिसाइल सर्टिफिकेट
    • केंद्र या राज्य सरकार द्वारा जारी किया एलोटमेंट लेटर ऑफ अकोमडेशन (3 साल से पुराना नहीं)

आप निचे लिखे डॉक्यूमेंट का भी इस्तेमाल कर सकते हैं, पर यह तीन महीने से ज्यादा पुराना नहीं होना चाहिए।

    • बिजली बिल/ पानी बिल / लैंडलाइन बिल या ब्रॉडबैंड कनेक्शन बिल
    • गैस कनेक्शन कार्ड या बुक
    • बैंक अकाउंट स्टेटमेंट
    • जमा खाता स्टेटमेंट
    • क्रेडिट कार्ड स्टेटमेंट

फोटो
आपको पैन कार्ड एप्लिकेशन के साथ अपनी दो तस्वीर भी भेजनी पड़ेगी।.

PAN कार्ड स्टेटस  कैसे चेक करें?

PAN Card  स्टेटस चेक चेक करना बहुत ही आसान है। PAN कार्ड अप्लाई करने के बाद आपको 15 डिजिट का Acknowledgment number प्राप्त होगा जिसके जरिए नीचे दिए किसी भी लिंक पर क्लिक कर के आप अपने कार्ड का स्टेटस प्राप्त कर सकते हैं- 

UTI पोर्टल लिंक
https://www.trackpan.utiitsl.com/PANONLINE/#forward 

NSDL पोर्टल लिंक
https://tin.tin.nsdl.com/pantan/StatusTrack.html 

Income Tax पोर्टल लिंक
https://www1.incometaxindiaefiling.gov.in/e-FilingGS/Services/ePANStatus.html?lang=eng 

निष्कर्ष :

उम्मीद करता हूँ आज आप सभी को PAN Card क्या है? से जुड़ी जानकारी  और PAN Card ke lie kaise apply kare? से जुड़े सवालों की जानकारी  देने में  सफल रहा हूँ।
किसी प्रकार की कोई जानकारी इस आर्टकिल में अपडेट करनी हो जो आप को लगता है यह होना जरुरी है ,कृपया कमेंट बॉक्स में बताएं।

अगर आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी  पसंद आई है तो कृपया इसे नीचे दिए सोशल platform के जरिए शेयर करें ताकि ये जानकारी औरो तक भी पहुंच सके।

One thought on “PAN Card क्या है? 

  • December 4, 2020 at 8:50 pm
    Permalink

    कुछ नया जानने को मिला. साभार आपका

    Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *