RBI क्या है? | RBI के कार्य | RBI Full form Kya Hai in Hindi

भारत के रंग बिरंगे नोटों पर आपने भारतीय रिजर्व बैंक लिखा जरूर देखा होगा और नीचे RBI Governor की signature जरूर देखी होगी। पर क्या आपको जानकारी है की भारतीय रिज़र्व बैंक क्या होता है? RBI गवर्नर की नियुक्ति कौन करता है ? अगर नहीं है तो कोई बात नहीं, आज हम आप सभी को RBI से जुड़े हर पेहलु की पूरी जानकारी देंगे। आज हम आप लोगो को बताएंगे की RBI क्या है? RBI details in Hindi, RBI ka Full Form kya hai? RBI का इतिहास क्या है? आरबीआई का मुख्यालय कहाँ है? RBI गवर्नर की नियुक्ति कौन करता है? RBI का मुख्य उद्देश्य क्या है? जैसे सारी जानकारियों के बारे में।

भारतीय रिजर्व बैंक भारत का केन्द्रीय बैंक है। आरबीआई भारत के सभी बैंकों का संचालक है। रिजर्व बैंक भारत की अर्थव्यवस्था को नियंत्रित करता है। हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से RBI Full Details in Hindi देने वाले है। तो चलिए जानते है RBI के बारे में पूरी जानकारी हमारे मातृभाषा हिंदी में।

RBI-kya-Hai-RBI-ka-fullform

RBI क्या है ?  RBI Full Details in Hindi 

भारतीय रिजर्व बैंक एक केन्द्रीय बैंक है, जिसका महत्वपूर्ण कार्य भारत सरकार और राज्यों के बैंक, एजेंट और सलाहकार के रूप में कार्य करना है। RBI के Full Form के बारे में हमने आगे आपको बताया है। RBI अपने कार्यों और नीतियों में जनता के हित और आम जनता की भलाई को बढ़ावा देने का प्रयास करता है। RBI एक गतिशील संस्था बनने का भी प्रयास करता है।

इसे भारत में बैंको का बैंक भी कहा जाता है। RBI भारत के सभी बैंको का संचालन करता है। यह बैंक भारत की  अर्थव्यवस्था  को Control करता है। भारत की सारी मुद्रा का हिसाब RBI के पास ही रहता है। RBI का पूरा नाम  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया है। RBI मुद्रा छापने का काम भी करता  है तथा मुद्रा पहुँचाने का काम भी करता  है। यह बैंक “Asian Clearing Union” का सदस्य है और इस आरबीआई को भारत का प्रधानमंत्री Control करता है। इसके देशभर में 29 ऑफ़िस है। भारतीय रिजर्व बैंक का पुराना नाम “The Imperial Bank Of India” (IBI) था।

आरबीआई का फुल फॉर्म क्या होता है? RBI Ka Full Form kya hai in Hindi

RBI का Full Form “Reserve Bank Of India” है और  हिंदी में आरबीआई को “भारतीय रिज़र्व बैंक” कहते हैं। भारतीय रिजर्व बैंक का पुराना नाम “The Imperial Bank Of India” (IBI) था।

RBI का इतिहास | History of RBI

भारतीय रिज़र्व बैंक (Reserve Bank of India-RBI) की स्थापना भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम, 1934 के प्रावधानों के अनुसार 1 अप्रैल, 1935 को हुई थी।शुरुआत में रिज़र्व बैंक का केंद्रीय कार्यालय कोलकाता में स्थापित किया गया था। जिसे वर्ष 1937 में स्थायी रूप से मुंबई में स्थानांतरित कर दिया गया। केंद्रीय कार्यालय RBI गवर्नर का कार्यालय होता है जहाँ वह बैठता है और यहीं से नई नई नीतियाँ को  निर्धारित किया जाता है।

यद्यपि प्रारंभ में यह निजी स्वमित्व वाला था, वर्ष 1949 में RBI के राष्ट्रीयकरण के बाद से इस पर भारत सरकार का पूर्ण स्वामित्व है।डॉक्टर बाबासाहेब आम्बेडकर ने भारतीय रिज़र्व बैंक की स्थापना में अहम भूमिका निभाई हैं, उनके द्वारा प्रदान किये गए दिशा-निर्देशों या निर्देशक सिद्धान्त के आधार पर भारतीय रिज़र्व बैंक बनाई गई थी।

डॉक्टर बाबासाहेब ने अपने विचारो को हिल्टन यंग कमीशन के सामने रखा था, जब 1926 में ये कमीशन भारत में रॉयल कमीशन ऑन इण्डियन करेंसी एण्ड फाइनेंस के नाम से आया था। तब इसके सभी सदस्यों ने बाबासाहेब ने लिखे हुए ग्रन्थ दी प्राब्लम ऑफ़ दी रुपीइट्स ओरीजन एण्ड इट्स सोल्यूशन (रुपया की समस्याइसके मूल और इसके समाधान) की जोरदार वकालात की, उसकी पृष्टि की। ब्रिटिशों की वैधानिक सभा (लेसिजलेटिव असेम्बली) ने इसे कानून का स्वरूप देते हुए भारतीय रिज़र्व बैंक अधिनियम 1934 का नाम दिया गया।

भारतीय रिजर्व बैंक का मुख्यालय कहाँ है? RBI Headquarter 

प्रारम्भ में भारतीय रिज़र्व बैंक का  मुख्यालय कोलकाता में था, जिसे सन् 1937 में मुम्बई में शिफ्ट कर दिया गया। पहले यह एक निजी बैंक था, किन्तु  बाद में सन 1949 से यह भारत सरकार का सबसे बड़ा बैंक बन गया है।पूरे भारत में रिज़र्व बैंक के कुल 29 क्षेत्रीय कार्यालय हैं, जिनमें से अधिकांश बैंक राज्यों की राजधानियों में स्थित हैं।

भारतीय रिजर्व बैंक का गवर्नर कौन है? Who is the Governor of RBI

दोस्तों क्या आप लोगो को पता है की आरबीआई के गवर्नर कौन है? वर्तमान समय में RBI के Governor शक्तिकांत दास जी हैं  जिन्होंने उर्जित पटेल की सेवानिवृत्ति के बाद 11 दिसम्बर 2018 को RBI के नए गवर्नर पद को ग्रहण किया था।  

शक्तिकांत दास वर्ष 2015 से 2017 तक आर्थिक मामलों (Economic Affairs) के सचिव पद पर रहे थे। RBI के गवर्नर का कार्यकाल 3 साल का होता है। यह तो है भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर और RBI Deputy Governor के बारे में जाने तो Reserve Bank में वर्तमान में तीन Deputy Governor हैं – एनएस विश्वनाथन, बीपी कानूनगो और महेश कुमार जैन और  Deputy Governor में चौथे स्थान पर माइकल पात्रा होंगे।

भारतीय रिजर्व बैंक के गवर्नर का पद सँभालने वाले लोगों की सूची इस प्रकार है: –

RBI Governor List with Year from 1935 to 2018
क्रमांक नाम कार्यकाल
1 सर ओसबोर्न 1 अप्रैल 1935 – 30 जून 1937
2 सर जेम्स ब्रेड टेलर 1 जुलाई 1937 – 17 फ़रवरी 1943
3 सर सी॰ डी॰ देशमुख 11 अगस्त 1943 – 30 जून 1949
4 सर बेनेगल रामा राव 1 जुलाई 1949 – 14 जनवरी 1957
5 के॰ जी॰ अम्बेगाओंकर 14 जनवरी 1957 – 28 फ़रवरी 1957
6 एच॰ वी॰ आर॰ आयंगर 1 मार्च 1957 – 28 फ़रवरी 1962
7 पी॰ सी॰ भट्टाचार्य 1 मार्च 1962 – 30 जून 1967
8 एल॰ के॰ झा 1 जुलाई 1967 – 3 मई 1970
9 बी॰ एन॰ आदरकार 4 मई 1970 – 15 जून 1970
10 एस॰ जगन्नाथन 16 जून 1970 – 19 मई 1975
11 एन॰ सी॰ सेनगुप्ता 19 मई 1975 – 19 अगस्त 1975
12 के॰ आर॰ पुरी 20 अगस्त 1975 – 2 मई 1977
13 एम॰ नरसिम्हन 3 मई 1977 – 30 नवम्बर 1977
14 डॉ॰ आई॰ जी॰ पटेल 1 दिसम्बर 1977 – 15 सितम्बर 1982
15 डॉ॰ मनमोहन सिंह 16 सितम्बर 1982 – 14 जनवरी 1985
16 ऐ॰ घोष 15 जनवरी 1985 – 4 फ़रवरी 1985
17 आर॰ एन॰ मल्होत्रा 4 फ़रवरी 1985 – 22 दिसम्बर 1990
18 एस॰ वेंकटरमनन 22 दिसम्बर 1990 – 21 दिसम्बर 1992
19 सी॰ रंगराजन 22 दिसम्बर 1992 – 21 नवम्बर 1997
20 डॉ॰ बिमल जालान 22 नवम्बर 1997 – 6 सितम्बर2003
21 डॉ॰ वॉय॰ वी॰ रेड्डी 6 सितम्बर 2003 – 5 सितम्बर 2008
22 डी॰ सुब्बाराव 5 सितम्बर 2008 – 4 सितम्बर 2013
23 रघुराम राजन 5 सितम्बर 2013 – 4 सितम्बर 2016
24 उर्जित पटेल 5 सितम्बर 2016 – 10 दिसंबर 2018
25 शक्तिकांत दास 11 दिसंबर 2018 – पदस्थ
List of Reserve Bank of India (RBI)  Governor with Signature
Name   Signature 
सर ओसबोर्न  —
सर जेम्स ब्रेड टेलर
सर सी॰ डी॰ देशमुख  rbi-governor-signature-list
सर बेनेगल रामा राव rbi-governor-signature-list
के॰ जी॰ अम्बेगाओंकर list-of-rbi-governors-with-their-signatures
एच॰ वी॰ आर॰ आयंगर list-of-rbi-governors-with-their-signatures
पी॰ सी॰ भट्टाचार्य rbi-governor-signature-list
एल॰ के॰ झा rbi-governor-signature-list
बी॰ एन॰ आदरकार list-of-rbi-governors-with-their-signatures
एस॰ जगन्नाथन list-of-rbi-governors-with-their-signatures
एन॰ सी॰ सेनगुप्ता list-of-rbi-governors-with-their-signatures
के॰ आर॰ पुरी rbi-governor-signature-list
एम॰ नरसिम्हन list-of-rbi-governors-with-their-signatures
डॉ॰ आई॰ जी॰ पटेल rbi-governors-list-with-their-signatures
डॉ॰ मनमोहन सिंह[1]
ऐ॰ घोष list-of-rbi-governors-with-their-signatures
आर॰ एन॰ मल्होत्रा list-of-rbi-governors-with-their-signatures
एस॰ वेंकटरमनन rbi-governors-list-with-their-signatures
सी॰ रंगराजन rbi-governors-list-with-their-signatures
डॉ॰ बिमल जालान rbi-governors-list-with-their-signatures
डॉ॰ वॉय॰ वी॰ रेड्डी rbi-governors-list-with-their-signatures
डी॰ सुब्बाराव rbi-governors-list-with-their-signatures
रघुराम राजन rbi-governor-signature-list
उर्जित पटेल rbi-governor-signature-list
शक्तिकांत दास rbi-governors-list-with-their-signatures

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

 

RBI गवर्नर  की नियुक्ति कौन करता है

अब जानते है की भारतीय रिजर्व बैंक की नियुक्ति कौन करता है ? भारतीय रिजर्व बैंक अधिनियम की धारा 8 के अनुसार बोर्ड के सदस्यों को भारत सरकार द्वारा नियुक्त किया जाता है। आरबीआई के प्रशासनिक अधिकारी के रूप में सीबीडी (Central Board of Directors) में निदेशकों के दो सेट शामिल हैं, पहला आधिकारिक निदेशक और दूसरा, गैर-आधिकारिक निदेशक है । आरबीआई अधिनियम के अंतर्गत केंद्र सरकार द्वारा मनोनीत किया गया है । RBI के  गवर्नर पद की नियुक्ति अभी तक वित्त मंत्री की सलाह के बाद देश के प्रधानमंत्री द्वारा की जा रही है।

RBI का मुख्य उद्देश्य क्या है? 

RBI का मुख्य उद्देश्य वाणिज्य बैंकों, वित्तीय संस्थाओं और गैर-बैंकिंग वित्तीय संस्थाओं सहित वित्तीय क्षेत्र का समेकित पर्यवेक्षण करना है। और मुद्रा परिचालन एवं काले धन की दोषपूर्ण अर्थव्यवस्था को नियन्त्रित करने के लिये रिज़र्व बैंक ऑफ़ इण्डिया ने 31 मार्च 2014 तक सन् 2005 से पूर्व जारी किये गये सभी सरकारी नोटों को वापस लेने का निर्णय लिया है। 

भारतीय  रिजर्व बैंक का मुख्य उद्देश्य  यह भी है की ये भारत की अर्थव्यवश्ता को देखता है और इन पर नियंत्रड भी रखता है। 

RBI के कार्य | Work of RBI

भारतीय रिज़र्व बैंक के बारे में इतना जानने के बाद अब हम जानेंगे की यह बैंक किन कार्यों के लिए जाना जाता है।
भारतीय रिजर्व बैंक के कार्य निम्नलिखित प्रकार से है ;-

  • मौद्रिक नीति तैयार करना, उसका कार्यान्वयन और निगरानी करना।
  • वित्तीय प्रणाली का विनियमन और पर्यवेक्षण करना।
  • विदेशी मुद्रा का प्रबन्धन करना।
  • मुद्रा जारी करना, उसका विनिमय करना और परिचालन योग्य न रहने पर उन्हें नष्ट करना।
  • सरकार का बैंकर और बैंकों का बैंकर के रूप में काम करना।
  • साख नियन्त्रित करना।
  • मुद्रा के लेन देन को नियंत्रित करना

इसके आलावा इसके प्रमुख कार्य ऐसे है ;-

मौद्रिक प्राधिकारी

  • मौद्रिक नीति तैयार करता है, उसका कार्यान्वयन करता है और उसकी निगरानी करता है।
  • उद्देश्य : मूल्य स्थिरता बनाए रखना और उत्पादक क्षेत्रों को पर्याप्त ऋण उपलब्धता को सुनिश्चित करना।

वित्तीय प्रणाली का विनियामक और पर्यवेक्षक

  • बैंकिंग परिचालन के लिए विस्तृत मानदंड निर्धारित करता है जिसके अंतर्गत देश की बैंकिंग और वित्तीय प्रणाली काम करती है।
  • उद्देश्य : प्रणाली में लोगों का विश्वास बनाए रखना, जमाकर्ताओं के हितों की रक्षा करना और आम जनता को किफायती बैंकिंग सेवाएं उपलब्ध कराना।

विदेशी मुद्रा प्रबंधक

  • विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम, 1999 का प्रबंध करता है।
  • उद्देश्य : विदेश व्यापार और भुगतान को सुविधाजनक बनाना और भारत में विदेशी मुद्रा बाजार का क्रमिक विकास करना और उसे बनाए रखना।

मुद्रा जारीकर्ता

  • करेंसी जारी करता है और उसका विनिमय करता है अथवा परिचालन के योग्य नहीं रहने पर करेंसी और सिक्कों को नष्ट करता है।
  • उद्देश्य : आम जनता को अच्छी गुणवत्ता वाले करेंसी नोटों और सिक्कों की पर्याप्त मात्रा उपलब्ध कराना।

विकासात्मक भूमिका संबंधित कार्य

  • सरकार का बैंकर : केंद्र और राज्य सरकारों के लिए व्यापारी बैंक की भूमिका अदा करता है; उनके बैंकर का कार्य भी करता है।
  • बैंकों के लिए बैंकर : सभी अनुसूचित बैंकों के बैंक खाते रखता है।
  • राष्ट्रीय उद्देश्यों की सहायता के लिए व्यापक स्तर पर प्रोत्साहनात्मक कार्य करना

 

भारतीय रिज़र्व बैंक/ Reserve Bank of India (RBI) FaQ 

Q: RBI का फुल फॉर्म क्या होता है?
A: RBI का Full Form “Reserve Bank Of India” है और  हिंदी में आरबीआई को “भारतीय रिज़र्व बैंक” कहते हैं

Q : आरबीआई के पहले भारतीय गवर्नर कौन थे?
A : भारतीय रिज़र्व बैंक के पहले गवर्नर ओसबोर्न स्मिथ थे जिन्होंने 1 अप्रैल 1935 से 30 जून 1937 तक अपना कार्यभार संभाला।

Q : आरबीआई के वर्तमान गवर्नर कौन हैं?
A : शक्तिकांत दास RBI के 25वें गवर्नर हैं.

Q : भारतीय रिजर्व बैंक का प्रतीक क्या है?
A : ताड़ का पेड़ और बाघ RBI भारतीय रिजर्व बैंक का प्रतीक है।

Q : रिजर्व बैंक का राष्ट्रीयकरण किस वर्ष में हुआ ?
A : 1935 में भारतीय रिजर्व बैंक की स्थापना के बाद में साल 1949 में RBI बैंक का राष्ट्रीयकरण किया गया

Q : बैंकों के राष्ट्रीयकरण के समय आरबीआई का गवर्नर कौन था?
A : बैंकों के राष्ट्रीयकरण के समय श्री चिंतामणि द्वारकानाथ देशमुख रिजर्व बैंक के गवर्नर थे।

Q : आरबीआई के दो गवर्नर कौन हैं जिनकी सिग्नेचर नोटों पर नहीं है ?
A : K G Ambegaonkar और Osborn Orkal Smith RBI के ऐसे दो गवर्नर हैं जिनके हस्ताक्षर भारतीय नोटों पर नहीं हैं।

Q : भारतीय रिजर्व बैंक का पुराना नाम क्या था?
A : भारतीय रिजर्व बैंक का पुराना नाम “The Imperial Bank Of India” (IBI) था।

Q : भारतीय रिजर्व बैंक का मुख्यालय कहाँ है?
A : प्रारम्भ में भारतीय रिजर्व बैंक का केन्द्रीय कार्यालय  कोलकाता में था, जिसे सन् 1937 में मुम्बई में कर दिया गया।

निष्कर्ष: 

उम्मीद करता आप सभी को  RBI क्या है? RBI Full Form और RBI से जुड़े सवालों की  के साथ साथ सभी Governor की लिस्ट और उनकी signature list की जानकारी भी अच्छी और नई लगी होगी।  

अगर आपको मेरे द्वारा दी गई जानकारी  पसंद आई है तो कृपया इसे नीचे दिए सोशल platform के जरिए शेयर करें ताकि ये जानकारी औरो तक भी पहुंच सके।

6 thoughts on “RBI क्या है? | RBI के कार्य | RBI Full form Kya Hai in Hindi

  • June 12, 2021 at 5:38 pm
    Permalink

    Thanks for sharing this information.
    Waiting for next article .

    Reply
  • June 22, 2021 at 9:29 pm
    Permalink

    Sir aapke blog ko Google adsense approval kitne post likhne bad mila please answer de …

    Reply
    • June 22, 2021 at 9:40 pm
      Permalink

      Adsense kabhi bhi number of post par ni milta, balki uniqueness par, or fresh content par milta hai bhai, aap adsense 6 content par bhi pa sakte hain or kya pata 60 content par bhi adsense na mile.
      To content hamesa fresh or nae topic par likhe .

      Reply

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Upcoming dividend paying stocks list of India in 2022 Jacqueline Fernandez: ED का शिकंजा, बनाया आरोपी जानिए क्या है मामल जानें राजू श्रीवास्तव की तबियत के बारे में , क्या कह रहे डॉक्टर? Blockbuster Filmmaker Wolfgang Petersen: Birth, death, Networth Marvels Latest Series ,She-Hulk: Release Date, Where to watch? Tata Motors Top EV Cars: जिनका दबदबा बाजार में कायम है Chinab Bridge: दुनिया का सबसे ऊँचे पुल की कुछ ख़ास बातें ! Snoop Dogg : After Wine, Gin & Cannabies, Breakfast cereal Now Snoop Loopz Janmashtami 2022 Date: जानें कब है श्रीकृष्ण जन्माष्टमी, शुभ मुहूर्त US Inflation Reduction Act of 2022: How soon will it impact? 2022 में Dividend देने वाले स्टॉक्स की लिस्ट और Dates आइये जानते हैं राजू श्रीवास्तव की तबियत के साथ उनसे जुडी मुख्य बातें 2022: Best Electric Cars under 10 Lakh to 30 lakhs in India ‘लाल सिंह चड्ढा’ : Movie Review, Total Collection LANGYA VIRUS: क्या फिर से आएगी तबाही? पढ़ें स्टॉक मार्केट में Dividend क्या होता है और कैसे मिलता है? Mobile Se Online Share Kaise Khariden💰Bechen स्टॉक मार्केट में इन्वेस्ट कैसे करें? | Golden Rule to Invest जानकारी जो मदद करे आपका Income Tax बचाने में!