अब बिना इंटरनेट के भी भुगतान!!😲 | eRUPI kya hai in Hindi | Kaise krta hai eRUPI kaam

eRUPI in Hindi :  जी हाँ , आप सभी ने बिलकुल ठीक पढ़ा , अब बिना इंटरनेट के भी भुगतान संभव है। यह संभव हो पाया digitalization की ओर एक कदम बढ़ाते हुए eRUPI के शुरू होने के साथ। पिछले कुछ सालों से देश की सरकार Digialization पर काफी ज़ोर दे रही है। इसी को नजर में रखते हुए मोदी सरकार ने NPCI की मदद से डिजिटल पेमेंट के लिए एक नए  कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस प्लेटफ़ॉर्म की शुरुवात की है जिसे eRUPI का नाम दिया गया है। बहुत से लोगों के मन  में  इससे जुड़े कई सवाल हैं जैसे eRUPI kya hai in Hinidi, eRUPI ka Full -Form ,बिना इंटरनेट के आखिर पेमेंट कैसे होगा? eRUPI काम कैसे करता है?  इसे शुरू किसने किया ? eRUPI शुरू करने का मकसद और सबसे बड़ा सवाल eRUPI ka Faida kya hai आम लोगों को। सभी के जानकारी प्राप्त करने के लिए इस आर्टिकल को पूरा पढ़ें। 

eRUPI-Voucher-kya-hai-in-hindi-mein

डिजिटल करेंसी और पेमेंट का चलन 

जब से देश में डिजिटल करेंसी और डिजिटल Payment की ओर रुझान बढ़ा है हम सभी की लाइफ थोड़ी आसान सी होगई है। बाज़ार में सामान खरीदने के लिए  निकले हैं , जल्दी जल्दी में अपना पर्स घर भूल आए , या आपके पास कैश पर्याप्त कैश नहीं है!! आपको फ़िक्र नहीं होती क्युकी आपके पास मोबाइल के जरिये पेमेंट करने का डिजिटल माध्यम  उपलब्ध है। अब चाहे सब्जी खरीदनी हो , फल खरीदना हो या फिर दवा लेनी हो ,  लगभग सभी जगह डिजिटल पेमेंट का ऑप्शन आपको मिल जाता है।  और जहा अभी तक डिटिजल पेमेंट  का ऑप्शन नहीं है वहां धीरे धीरे बदलाव आरहा है और इस  बदलाव को और बढ़ावा देने के लिए eRUPI जैसे डिजिटल Payment सेवा को  सरकार ने किया है। 

लगभग अब सभी देश डिजिटल पेमेंट को बढ़ावा देने में जोर सोर से लगे हैं , हमारे पडोसी देश चीन ने भी अपनी करेंसी युआन को डिजिटल शक्ल देकर कई शहरों में लॉन्च कर दिया है। चीन ने  E-RMB नामक डिजिटल युआन मुद्रा को 2022 के बीजिंग विंटर ओलंपिक के समय देश भर में लॉन्च करने का लक्ष्य रखा है

Bitcoin और इसके जैसी कई Cryptocurrency के बारे में आपने जरूर सुना होगा। कैसे इसने डिजिटल पेमेंट की दुनिया में एक क्रांति लाने का काम किया। हालाकिं Bitcoin पर किसी सरकार का नियंत्रण न होने के कारण भारत सरकार इसके पक्ष में नहीं है। eRUPI को RBI की cryptocurrency के रूप में भी देखा जा रहा है पर ये cryptocurrency नहीं है, आप इस भुलावे में मत रहिएगा।  आखिर eRUPI क्या है? आइए फिर विस्तार से जानते हैं। 

यह भी पढ़ें:
Bitcoin क्या है?
Dogecoin क्या है?

eRUPI e-Voucher की जरूरत क्यों पड़ी ?

किसी व्यवस्था को शुरू करने  के पीछे कई कारण होते हैं।  उन कारणों का जानना भी उतना ही जरूरी है जितना की उस व्यवस्था के बारे में जानकारी लेना तभी हम उसे अच्छे से समझ पाएंगे बिना उसकी आलोचना किए। राजीव गाँधी जी ने कहा था कि , जब भी सरकार द्वारा आम जन और जरूरत मंद  लोगों के लिए सरकार 1 रूपए देती है , वह 1 रूपए उस जरूरत मंद तक पहुँचते पहुँचते 15 पैसा होजाता है। बाकी का 85 पैसे बीच में ही घोटालों की भेंट चढ़ जाता है। सरकार ने इस कमी को दूर करने के लिए और उस 1 रूपए  को लाभार्थी को पूरा लाभ मिल सके इस लिए eRUPI जैसी इलेक्ट्रॉनिक वाउचर बेस्ड सुविधा को लांच किया है।   

eRUPI Prepaid e-Voucher क्या है? What is eRUPI in Hindi 

eRUPI एक इलेक्ट्रॉनिक वाउचर बेस्ड डिजिटल पेमेंट के लिए ,कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस प्लेटफ़ॉर्म है जिसकी शुरुवात देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने 2 अगस्त, 2021 को शाम 4:30 बजे की थी। eRUPI का पूरा नाम है, Full Form of eRUPI – Electronic Rupee Unified Interface . इसे आप UPI का advanced version  भी कह सकते हैं। इस प्लेटफॉर्म को NPCI (National Payments Corporation of India ) , डिपार्टमेंट ऑफ फाइनेंशियल सर्विसेज द्वारा डेवलप करने के बाद RBI (Reserve Bank of India) के द्वारा मान्यता प्रदान करने के बाद लांच किया गया है। 

जैसा की ऊपर हमने बताया ,eRUPI एक इलेक्ट्रॉनिक बेस्ड वाउचर है, जो बेनिफिशीएरी के मोबाइल फोन में QR कोड या SMS के तौर पर आएगा और जिस चीज़ के लिए यह QR कोड भेजा गया है केवल उसी का लाभ बेनिफिशरी ले पाएगा। 

eRUPI वाउचर कैसे काम करता है वोभी बिना इंटरनेट के ? (How eRUPI Works in Hindi )

आपको eRUPI kya hai और eRUPI ka Full Form kya hai इसकी जानकारी तो होगई होगी। आइए अब जानते हैं कि आखिर eRUPI काम कैसे करता है। यह एक Person-Specific और Purpose-Specific कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस प्लेटफ़ॉर्म है। आसान भाषा में कहे तो यह एक prepaid evoucher की तरह है जिसका इस्तेमाल किसी निर्धारित पेमेंट के लिए ही किया जायेगा। 

मान लीजिए सरकार ने ठण्ड से पीड़ित लोगों को मुआवजा में कम्बल देने की घोसणा की। उन्होंने सभी पीड़ितों को कम्बल के लिए QR कोड वाउचर उनके नंबर पर सीधे भेज दिया। वे निर्धारित केंद्र पर जाकर अपना वाउचर कोड दिखा कर कम्बल ले सकेंगे।  इस प्रकार यह एक Person-Specific और Purpose-Specific बन जाता है और बीच में किसी प्रकार के घपले की सम्भावना खत्म होजाती है। इसमें किसी प्रकार से जरूरतमंद को इंटरनेट की भी जरूरत नहीं पड़ेगी।  इसपर eRUPI बिना इंटरनेट के भी उपयोग में आता है। 

कैसे जारी किए जाएंगे eRUPI वाउचर

 eRUPI प्लेटफार्म UPI की तर्ज पर NPCI के द्वारा बनाया गया electronic बेस्ड वाउचर है जिसमे देश के सभी बैंको को शामिल किया गया है। UPI Platform पर जुड़े सभी बैंक अपना खुद का eVoucher जारी कर सकेंगे जिसे पहले से पैसा देकर खरीदा जा सकेगा। जोभी व्यक्ति UPI यूज़ करता है वह किसी दूसरे के लिए eVoucher बना कर सेंड कर सकेगा।  साथ में  इस बात की भी जानकारी देनी होगी कि ये किसके लिए और किस उद्देश्य के लिये जारी किया जारहा है।  बेनिफिशिएरी की पहचान मोबाइल नंबर से की जाएगी और बैंक द्वारा सर्विस प्रोवाइडर को किसी व्यक्ति के नाम का वाउचर सिर्फ उसी व्यक्ति को ही दिया जाएगा। यह वाउचर सिर्फ एकबार ही उपयोग में लाया जा सकेगा। 

e-RUPI Voucher का कहां-कहां इस्तेमाल हो सकता है

जैसा की हमने आपको बताया , eRupi इलेक्ट्रॉनिक वाउचर प्लेटफार्म को इसलिए लांच किया गया है ताकि सरकार द्वारा चलाई जाने वाली योजनाओ का पूरा लाभ जरूरत मंद उठा सकें। बेनेफिशियरीज़ के विवरण को पूरी तरह गोपनीयता होने के कारण पूरी लेन-देन प्रक्रिया  तेज़ और साथ ही विश्वसनीय मानी जाती है। इसका इस्तेमाल मुख्यता निम्न सुविधाओं के लिए किया जाएगा 

  1. मदर एंड चाइल्ड वेलफेयर स्कीम,
  2. टीबी इरैडिकेशन प्रोग्राम के तहत दवाओं और न्यूट्रिशनल सपोर्ट
  3. आयुष्मान भारत प्रधान मंत्री जन आरोग्य योजना
  4. फर्टीलाइजर सब्सिडी सुविधा देने के लिए 
eRUPI के फायदे क्या हैं | Benefits Of eRUPI in Hindi 

चलिए अब जानते हैं eRUPI का फ़ायदा क्या है जिसके कारण सरकार को इस सुविधा को लांच करना पड़ा। 

  • सरकार द्वारा चल रही और आने वाले समय में नई योजनाओ का लाभ सीधे जरूरत मंद तक पहुंचाने में eRUPI एक एहम भूमिका निभाएगा।
  • किसी प्रकार की राशि ,सब्सिडी  सीधे जरूरत मंद के खातों में इस eRUPI वाउचर के माधयम से पहुँचाया जा सकेगा।
  • इस वाउचर के माध्यम से पूरी लेन-देन प्रक्रिया तेज़ और साथ ही विश्वसनीय मानी जाती है क्योंकि यह बेनेफिशियरीज़ के विवरण को पूरी तरह गोपनीय रखता है.

 

निष्कर्ष :

आशा करता हूँ आप सभी को eRUPI e-Voucher Electronic Based Voucher kya hai in Hindi, eRUPI का पूरा नाम और इससे जुड़े फायदे की पूरी जानकारी हो गई होगी। इस प्रकार की नई नई जानकारियों के लिए नीचे दी हुई लाल घंटी को जरूर दबाएं। जानकारी कैसी लगी ये कुछ बदलाव के सुझाव के लिए हमें कमेंट में जरूर बायें।

धन्यवाद !

eRUPI Related FAQ 

Q :eRUPI को कब लांच किया गया ? 
A :eRUPI को 2 अगस्त 2021 शाम 4:30 बजे लांच किया गया था. 

Q :eRUPI Voucher को कैसे इस्तेमाल करे ? 
A :eRUPI Voucher आपके UPI Application में integrate करदिया जाएगा। इसका अलग से कोई एप्लीकेशन नहीं होगा।

Q :eRUPI Voucher क्या है ? 
A :eRUPI एक इलेक्ट्रॉनिक वाउचर बेस्ड डिजिटल पेमेंट के लिए ,कैशलेस और कॉन्टैक्टलेस प्लेटफ़ॉर्म है। यह एक डिजिटल वाउचर हैं जिसमें पैसा भेजने वालइ लाभार्थी को एक QR code या SMS के जरिये भेजा जा सकेगा और उसके सन्दर्भ में भुगतान कर सकेगा. 

Q :eRUPI फुल फॉर्म क्या है ? 
A :eRUPI का पूरा नाम है, Full Form of eRUPI – Electronic Rupee Unified Interface

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *