NIFTY 50 क्या है? NIFTY 50 कैसे बनता है?

हमने आप सभी को अपने पिछले ब्लॉग पोस्ट स्टॉक मार्केट क्या है? की जानकारी देने का प्रयास किया था। आज का हमारा ब्लॉग आर्टिकल  स्टॉक मार्केट से जुड़े एक पहलू NIFTY 50 पर आधारित है। स्टॉक मार्केट के विषय में हम जभी  टीवी ,न्यूज़ या अख़बारों में पढ़ते या सुनते हैं तो NIFTY 50 का नाम जरूर सुनते हैं।  पर क्या आपको  NIFTY 50 क्या है? what is NIFTY 50 in hindi  की पूरी जानकारी है? जिस प्रकार निवेश करने से पहले स्टॉक मार्केट की जानकारी होना जरूरी है उसी प्रकार निफ़्टी की जानकारी यदि आपको है तो आपकी निवेश की राह और आसान हो जाती है।

Nifty50 Kya hai?

आज के अपने इस ब्लॉग आर्टिकल के माध्यम से आप सभी को NIFTY क्या है ? NIFTY का full form क्या है? और यह स्टॉक मार्केट में इतना महत्त्व क्यों रखता है जैसे सवालों की सम्पूर्ण जानकारी देने का प्रयत्न कर रहा हूँ। 

NIFTY 50 क्या है ?

NIFTY50 का full form है National Stock Exchange Fifty . निफ़्टी NIFTY 50 को National 50  के नाम से भी जाना जाता है। यह NSE (National Stock Exchange) की  टॉप 50 सबसे बड़ी कंपनियों के समूह का सूचकांक या benchmark होता है जिसे इंग्लिश में Indices कहते हैं। निफ़्टी में  Stock Exchange की 12 अलग-अलग सेक्टर  की 50 company indexed होती है और इसमें 50 से ज्यादा कम्पनियों को लिस्ट नहीं किया जा सकता। इन 50 कम्पनियों को index करने का मूल भूत आधार इनकी performance होता है जिससे कि इन 50 कंपनियों के नाम समय समय पर बदलते रहते हैं। 

NIFTY 50 कैसे बनता है और कैसे काम करता है। 

जैसा कि ऊपर बताया गया निफ़्टी देश की सबसे बड़ी 50 कंपनियों का बेंचमार्क है। शेयर बाजार में सबसे ज्यादा इन्ही 50 कम्पनियों के शेयर ख़रीदे व बेचे जाते हैं। स्टॉक एक्सचेंज में लगभग 5000 से ज्यादा कम्पनियां लिस्टेड है। बाजार के उतार चढ़ाओ का सही आकलन करने के लिए यह बहुत मुश्किल होगा अगर इन सभी 5000 कंपनियों को बेंचमार्क के रूप में आकलन किया जाए। इसलिए इन सभी कंपनियों में से 50 सबसे बड़ी कंपनी को बेंचमार्क के रूप में उपयोग किया जाता है जिससे बाजार के उतार चढ़ाओ का आकलन संभव और आसान होजाता है। इन बड़ी कम्पनियों का Market Capitalization 60% के लगभग होता है। जब भी शेयर मार्केट में इन 50 कंपनियों के शेयर अधिक मात्रा में खरीदे या बेचे जाने लगते हैं तो NIFTY ऊपर या नीचे की और गिरने लगता है। 

जब जब NIFTY का ग्राफ ऊपर की ओर जाता है तब तब हमें यह पता चलता है की कंपनियां अच्छा ग्रोथ कर रही हैं। जब कंपनियां अच्छा ग्रोथ कर रही होती हैं इसका मतलब वे ज्यादा से ज्यादा कैपिटल एकत्र कर रही होती हैं  और बाजार तथा सरकार की नीतियां शेयर बाजार के अनुकूल हैं । ये कम्पनिया जितना ज्यादा ग्रोथ और कैपिटल गेन करेंगी उतना ज्यादा टैक्स ये सरकार को देंगी जिससे देश के अर्थव्यस्था में मजबूती आएगी।


यह भी पढ़ें :


NIFTY और SENSEX में क्या अंतर है ?

निफ़्टी और सेंसेक्स दोनों हो शेयर बाजार में होने वाली तेजी और मंदी को दर्शाने वाले indices हैं। जिस प्रकार NIFTY , NSE National Stock Exchange की टॉप 50 कंपनियों के शेयर पर नज़र रखता है उसी प्रकार से SENSEX , BSE Bombay Stock Exchange की टॉप 30 कंपनियों पर नज़र रखता है। निफ़्टी में लिस्टेड कम्पनियों की मार्केट कैप ज्यादा होने की वजह से इसे ज्यादा तवज्जो दो जाती है। हालाकिं BSE में लिस्टेड 30 कंपनियां NIFTY की 50 कंपनियों में से हो सकती हैं।

NIFTY 50 लिस्टेड कंपनी 2021
Industry Security Name Weightage (%)
Automobile Bajaj Auto Ltd. 0.74
Hero MotoCorp Ltd. 0.58
Eicher Motors Ltd. 0.51
Mahindra & Mahindra Ltd. 0.76
Maruti Suzuki India Ltd. 1.59
Tata Motors Ltd. 0.36
Cement  Grasim Industries Ltd. 0.52
Shree Cement Ltd. 0.65
UltraTech Cement Ltd. 1.05
Cigarettes ITC Ltd. 4.18
Consumer Goods Hindustan Unilever Ltd. 4.59
Britannia Industries Ltd. 0.88
Nestle India Ltd. 1.62
Titan Company Ltd. 1.09
Asian Paints Ltd. 2.1
Energy Oil & Natural Gas Corporation Ltd. 0.7
NTPC Ltd. 1.14
Power Grid Corporation of India Ltd. 1.14
Bharat Petroleum Corporation Ltd. 0.71
Indian Oil Corporation Ltd. 0.58
Reliance Industries Ltd. 10.06
GAIL (India) Ltd. 0.4
Engineering Larsen & Toubro Ltd. 2.79
Fertilizer UPL Ltd. 0.5
Financial Services Axis Bank Ltd. 2.39
HDFC Bank Ltd. 10.42
ICICI Bank Ltd. 5.85
IndusInd Bank Ltd. 0.59
Kotak Mahindra Bank Ltd. 4.85
State Bank of India 2.11
Bajaj Finance Ltd. 1.64
Bajaj Finserv Ltd. 0.78
Housing Development Finance Corporation Ltd. 7.88
Information Technology HCL Technologies Ltd. 1.32
Infosys Ltd. 6.56
Tata Consultancy Services Ltd. 5.36
Tech Mahindra Ltd. 0.98
Wipro Ltd. 0.82
Media & Entertainment Zee Entertainment Enterprises Ltd. 0.32
Metals & Mining Hindalco Industries Ltd. 0.39
Vedanta Ltd. 0.33
JSW Steel Ltd. 0.41
Tata Steel Ltd. 0.57
Coal India Ltd. 0.82
Pharma Cipla Ltd. 0.6
Dr. Reddy’s Laboratories Ltd. 1.06
Sun Pharmaceutical Industries Ltd. 1.06
Shipping Adani Ports and Special Economic Zone Ltd. 0.54
Telecom Bharti Infratel Ltd. 0.38
Bharti Airtel Ltd. 2.75
NIFTY 50
Source : http://www.sanasecurities.com/

NIFTY 50 के फायदे 

निफ़्टी के स्टॉक मार्किट में बहुत से फायदे हैं ,जिनमे से कुछ मुख्य निम्लिखित हैं।

  1. NIFTY से हमें आसानी से यह पता चल जाता है कि बाजार में तेजी है या बाजार में बंदी में क्युकी यह 50 बड़ी कम्पनियों का सूचकांक होता है जैसा की आपको बताया गया है।
  2. निफ़्टी के जरिये हमें आसानी से इस बात का आकलन कर सकते हैं कि देश की अर्थव्यवस्था में किस प्रकार का बदलाव आरहा। हम यह जान सकते हैं की मौजूदा सरकार की नीतियाँ किस प्रकार से बाजार के अनुकूल हैं।
  3. NSE National Stock Exchange की परफॉरमेंस के बारे में NIFTY 50 से आसानी से पता लगाया जा सकता है।
  4. NIFTY के माध्यम से ही निवेशक इस बात का पता कर सकते हैं कि उन्हें निवेश बनाए रखना है या निवेश  निकलना है।

निष्कर्ष :

उम्मीद करता हूँ आप सभी को NIFTY 50 क्या है? what is NIFTY 50 in Hindi से जुड़े सवालों के जवाब देने में सफल रहा हूँ। अगर आपको यह जानकारी अच्छी लगे तो कृप्या इसे दूसरों में जरूर शेयर करें। यदि आपके पास कोई सवाल या सुझाव हो तो comment box में जरूर बताएं।

 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *